Health Tips : ये नियम बदल सकते हैं आपकी लाइफ, मिलेगी लंबी जिंदगी

जैसे-जैसे हमारी उम्र बढ़ती है, हमारी रोग प्रतिरोधक क्षमता कम होने लगती है। जब हम बच्चे होते हैं तो इस पर ध्यान नहीं देते हैं, लेकिन उम्र में कई तरह की बीमारियां हमें घेर लेती हैं, तब तक बहुत देर हो चुकी होती है। बार-बार होने वाली बीमारियों और बुढ़ापा से बचना है तो इसकी तैयारी जवानी से ही शुरू कर देनी चाहिए। लंबा और स्वस्थ जीवन पाने के लिए आपको पैसे खर्च करने की जरूरत नहीं है। आपको बस अपनी दिनचर्या में कुछ चीजों को शामिल करना होगा।
 
सूरज की रोशनी

सूरज के साथ जागने वाले जीवन में सफल होते हैं। ये आपने कई बार पढ़ा और सुना होगा। सुबह जल्दी उठने के कई स्वास्थ्य लाभ होते हैं। धूप हमारे अच्छे स्वास्थ्य के लिए बहुत जरूरी है। शहरों में रहने वाले लोगों को सुबह की धूप से कोई फायदा नहीं होता है। सूर्य के प्रकाश से हमें विटामिन डी मिलता है। विटामिन डी की कमी के शुरुआती लक्षण हम नहीं जानते। हालांकि, इसकी कमी से कई समस्याएं हो सकती हैं। विटामिन डी हमें कैंसर जैसी गंभीर बीमारी से भी बचाता है। यह रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ावा देता है। सुबह उठकर कुछ देर खुली धूप में बिताएं।

पानी
पानी की कमी भी कई बीमारियों से जुड़ी होती है। कुछ अध्ययनों में यह बात सामने आई है कि जो लोग कम पानी पीते हैं उन्हें बीमारियां ज्यादा होती हैं। इतना ही नहीं जो लोग पानी कम पीते हैं उनमें उम्र बढ़ने के लक्षण तेजी से दिखने लगते हैं। इसलिए पूरे दिन में कम से कम 3 लीटर पानी पीने की आदत डालें।
 
फल
बीमार होने पर लोग तरह-तरह की दवाएं लेते हैं। प्रकृति ने हमें मुफ्त में मल्टीविटामिन दिए हैं। फलों में एंटीऑक्सीडेंट होते हैं। ये कोशिका क्षति को रोकते हैं। शरीर में बनने वाले फ्री रेडिकल्स हानिकारक होते हैं। एंटीऑक्सीडेंट उन्हें दूर करते हैं। फलों में कई प्रकार के भोजन होते हैं। रोजाना फल खाने की आदत डालें। जरूरी नहीं कि आप महंगे विदेशी फल खाएं। सीजनल फ्रूट्स जो आपके एरिया में मिलते हैं, वो बेस्ट रहेंगे।

सब्जियां
हरी सब्जियां, लहसुन, प्याज मानव शरीर के लिए जड़ी-बूटी का काम करते हैं। पालक, चुकंदर, गोभी, फूलगोभी, मेथी, बधुआ आदि एंटीऑक्सीडेंट और सूक्ष्म पोषक तत्वों से भरपूर होते हैं। इन्हें अपनी डाइट में शामिल कर आप कई गंभीर बीमारियों के खतरे से बच सकते हैं।

पैदल चलना
अच्छी सेहत के लिए व्यायाम बहुत जरूरी है। इसके लिए जिम ज्वाइन करने की बिल्कुल भी जरूरत नहीं है। रोजाना 45 मिनट टहलना इम्यून सिस्टम को सक्रिय करता है। यदि आपको हृदय या फेफड़ों की समस्या नहीं है, तो आपको तेज गति से टहलना चाहिए। स्वास्थ्य देखभाल में सुधार के लिए डॉक्टर रोजाना टहलने की सलाह देते हैं।