Bundi :संभागीय आयुक्त ने किया जिला कलेक्ट्रेट कार्यालय का औचक निरीक्षण

संभागीय आयुक्त ने किया जिला कलेक्ट्रेट कार्यालय का औचक निरीक्षण
- 22 कार्मिक मिले अनुपस्थित
बूंदी, 22 मार्च। संभागीय आयुक्त उर्मिला राजौरिया ने शुक्रवार को जिला कलेक्ट्रेट कार्यालय का औचक निरीक्षण कर अधिकारियों व कर्मचारियों की उपस्थिति की जांच की। निरीक्षण के दौरान 22 कार्मिक अनुपस्थित पाए गए। जिनमें संबंध में संभागीय आयुक्त ने नियमानुसार कार्यवाही करने के निर्देश दिए।
इसके बाद संभागीय आयुक्त ने जिला कलेक्टर अक्षय गोदारा के साथ बैठक ली। बैठक में संभागीय आयुक्त ने निर्देश दिए सभी राजकार्य राज काज के माध्यम से ही संपादित किए जावे। उन्होंने जिला कलेक्टर को निर्देश दिए कि ई फाइलिंग के कार्य की प्रभावी मॉनिटरिंग करें। साथ ही यह भी सुनिश्चित करें सभी तरह की पत्रावलियां और दस्तावेजों प्राप्त करने और भेजने के लिए ई फाइलिंग व्यवस्था ही अपनाई जावे।
स्वीप गतिविधियों का किया शुभारंभ
संभागीय आयुक्त उर्मिला राजौरिया ने शुक्रवार को जिला कलेक्ट्रेट  परिसर में मतदाता जागरूकता को लेकर सजाई गई रंगोली का अवलोकन कर मतदाता जागरूकता गतिविधियों  का शुभारंभ किया। इस अवसर पर संभागीय आयुक्त ने मतदाताओं को जागरूक करने के लिए बनाई गई रंगोली को सराहा और कहा कि जागरूकता गतिविधियों के माध्यम से आगामी लोकसभा आम चुनाव, 2024 में अधिकाधिक मतदान के लिए यह बेहरीन प्रयास है। साथ ही शहीद राम कल्याण मार्ग पर मतदाता जागरूकता वॉल पेंटिंग भी बनाई गई।
इस दौरान जिला निर्वाचन अधिकारी अक्षय गोदारा, अतिरिक्त जिला कलक्‍टर घनश्‍याम शर्मा, मुख्य कार्यकारी अधिकारी दुर्गाशंकर मीना, अतिरिक्त जिला कलेक्टर सीलिंग नवरत्‍न कोली, प्रशिक्षु आईएएस मोहित, जिला खेल अधिकारी वाई बी सिंह, महिला एवं  बाल अधिकारिता उपनिदेशक ऋचा चतुर्वेदी, कौशल जैन  स्वीप आइकन सर्वेश तिवारी सहित स्काउट गाइड, छात्र-छात्राएं एवं महिलाएं मौजूद रही।
तहसील कार्यालय का किया निरीक्षण
संभागीय आयुक्त राजोरिया ने देवपुरा क्षेत्र में बूंदी तहसील का निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होंने निर्देश दिए कि अतिक्रमण के मामलों, चारागाह व सिवायचक भूमि के प्रकरणों का निस्तारण किया जावे। संपर्क पोर्टल पर दर्ज प्रकरणों का त्वरित निस्तारण किया जावे। उन्होंने निर्देश दिए कि  नामांतरण प्रकरण, गैर खातेदारी से खातेदारी के प्रकरणों नियमानुसार शीघ्र निस्तारण सुनिश्चित किया जावे। निरीक्षण के दौरान तहसीलदार बूंदी अर्जुन मीणा, नायब तहसीलदार रतनलाल जैन मौजूद रहे।