बूंदी:रेल कर्मियों की सजगता परखने के लिए किया गया मॉक ड्रिल

बून्दी के पास मालगाड़ी के इंजन से ट्रैक्टर ट्राली की टक्कर से ट्रेन का अवपथन
बूंदी, 20 मार्च। रेलवे के कार्मिकों की सजगता एवं कार्य प्रणाली तथा आपदा राहत उपकरणों की कार्यशीलता को परखने के लिए बुधवार को मॉक पोल का आयोजन किया गया। जिसमें दोपहर करीब 13.35 बजे कोटा मंडल के कोटा-चंदेरिया मेजर सेक्शन पर बूँदी एवं तालेड़ा स्टेशनों के मध्य किमी 32/1-2 पर स्थित समपार फाटक संख्या 45/ इंजीनियरिंग पर ट्रैक्टर-ट्रॉली नंबर आरजे08जीसी3743 एवं अप गुड्स ट्रेन आरयूपीसी लोको संख्या 27684 डब्लूएजी-7/एएसएन(ईआर) सामने से टकरा गई जिसके कारण ट्रैक्टर-ट्रॉली का ड्राईवर एवं उसमें सवार 3 से 4 लोग घायल होकर बेहोश हो गए एवं गुड्स ट्रेन आरयूपीसी लोको 27684 के इंजन का एक फ्रंट ट्रॉली का 02 व्हील अवपथित हो गए, जिसकी सूचना कार्यरत गेट मैन द्वारा स्टेशन मास्टर बूंदी को दी गई। स्टेशन मास्टर ने कोटा-चितौड़ खण्ड के गाड़ी नियंत्रक समय पालन को दोपहर 13.38 बजे घटना की सूचना दी। मंडल नियंत्रण कक्ष कोटा को दोपहर  13.40 बजे सूचना प्राप्त होने पर कोटा स्टेशन पर स्थित चिकित्सा वाहन तथा दुर्घटना राहत गाड़ी को भी तत्परता से रवाना किया गया एवं गंगापुरसिटी स्टेशन से चिकित्सा दुर्घटना राहत वाहन एवं दुर्घटना राहत गाड़ी को रवाना किया गया। वरिष्ठ मंडल संरक्षा अधिकारी कोटा  विनोद कुमार मीना ने 14.16 बजे छद्म घटना (मॉक ड्रिल) घोषित किया। मॉक ड्रिल में कोटा मंडल के संरक्षा विभाग, परिचालन विभाग, विद्युत विभाग (सामान्य), याँत्रिक विभाग, कर्षण वितरण विभाग, कर्षण परिचालन विभाग, इंजीनियरिंग विभाग, वाणिज्य विभाग, रेलवे सुरक्षा बल एवं चिकित्सा विभाग के अधिकारियों व कर्मचारियों ने भाग लिया। साथ ही साथ राज्य सरकार के बूंदी में पदस्थापित अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक, एडीएम, एक्सईएन (पीएचईडी) अधिकारियों एवं चेतक मोबाईल पुलिस, कोतवाली बून्दी, नियंत्रण रूम पुलिस लाइन बून्दी, सिविल डिफेन्स आदि के कर्मचारियों ने भाग लिया तथा एम्बुलेंस (राजकीय चिकित्सालय बूँदी), एम्बुलेंस 108 तथा फायर ब्रिगेड आदि घटना स्थल पर पहुंचे। इस आयोजन का क्रियान्वयन डीआरएम श्री मनीष तिवारी के निर्देशन एवं देखरेख में किया गया।