Kota: पोरवाल समाज के मुख पत्र चिंतन पत्रिका का विमोचन

कोटा 1 अप्रेल। श्री पद्मावती पोरवाल समाज की भारत में प्रकाशित होने वाली पत्रिका पोरवाल चिंतन का विमोचन राष्ट्र संत महाराज श्री नमन जी वैष्णव के कर कमलों से दिनांक 31 मार्च 2024 को पोरवाल मांगलिक एवं सामुदायिक भवन सुभाष नगर कोटा में सम्पन्न हुआ।
पोरवाल युवक संघ के अध्यक्ष नरेन्द्र गुप्ता ने बताया कि कार्यक्रम का शुभारम्भ महाराज श्री ने प्रथम पूज्य श्रीगणेश जी महाराज एवं माँ सरस्वती की प्रतिमा पर माल्यार्पण एवं दीप प्रज्जवलन कर किया। इस अवसर पर पोरवाल समाज के पदाधिकारी, आर.पी.गुप्ता, संरक्षक अखिल भारतीय पोरवाल महासंघ, दिल्ली एवं डॉ. महावीर प्रसाद गुप्ता प्रधान सम्पादक, श्री ऋषभ कुमार जैन, श्री मधुसूदन गुप्ता, श्रीमती मंगला गुप्ता, श्रीमती अंजिता गुप्ता भी उपस्थित थे।
इस अवसर पर राजस्थान की परम्परा के अनुसार राष्ट्र संत गुरुदेव को साफा बांध कर एवं शाल ओड़ा कर सभी पदाधिकारियों द्वारा अभिनन्दन एवं स्वागत किया गया। मंचासीन अतिथि श्रीमान अंशुल बैरागी एडवोकेट सुप्रीम कोर्ट का उपरणा पहनाकर स्वागत किया गया।
अध्यक्ष नरेन्द्र गुप्ता ने अपने स्वागत भाषण में पत्रिका के प्रकाशन की आवश्यकता एवं  इसके विस्तार पर विस्तृत चर्चा की तथा सभी स्वजनों से अनुरोध किया कि कोटा से पोरवाल समाज की पत्रिका का प्रकाशन होने से समाज में परस्पर सहयोग की भावना बडेगी। इस पत्रिका को आर्थिक सम्बल देने के लिए सभी को साधुवाद दिया एवं आशा की कि भविष्य में सम्पूर्ण स्वजनों से हमेशा इस तरह का सहयोग मिलता रहेगा जिससे समाज निरन्तर प्रगति की ओर अग्रसर होगा।
श्री उत्तम प्रकाश गुप्ता उपाध्यक्ष पोरवाल युवक संघ जो की इस पत्रिका से 13 वर्षाे से पूर्ण रुप से जुडे हुए हैं, उन्होंने अपने खट्टे -मीठे अनुभव इस 13 वर्ष की यात्रा के समाज के समक्ष रखते हुए भावुक हुऐ तथा उन्होंने विश्वास दिलाया कि पत्रिका के प्रकाशन में निरन्तर गुणात्त्मक वृद्धि जारी रहेगी।
इस अवसर पर पत्रिका के प्रधान सम्पादक डॉ. महावीर प्रसाद गुप्ता जो कि एक शिक्षाविद् है, ने बताया कि पत्रिका के प्रकाशन में किस-किस तरह की परेशानियाँ आती है तथा उन परेशानियों से कैसे निपटा जा सकता है। उन्होंने उपस्थिति सभी स्वजनों से अपील की कि प्रकाशन में आने वाली परेशानी को मध्यनजर रखते हुए सभी को पत्रिका के प्रकाशन में सहयोग करना चाहिए तथा उन्होंने यह विश्वास दिलाया कि प्रधान संपादक के रुप में अपना 100 प्रतिशत इस पत्रिका के प्रकाशन में देने में कटिबद्ध हूँ।
इसके पश्चात राष्ट्र संत श्री नमन जी वैष्णव द्वारा पोरवाल चिंतन का सभी उपस्थिति स्वजनों की उपस्थिति में विमोचन किया गया जिसका उपस्थित स्वजनों द्वारा करतल ध्वनी से स्वागत किया गया।
संत श्री नमन जी वैष्णव ने अपने आर्शीवचनों से पत्रिका के लिए शुभकामनाएँ प्रेषित की। उन्होंने सम्पूर्ण समाज को आहवान किया कि पत्रिका एक पूल की तरह काम करेगी जिससे दूर दराज तक बैठे हुए स्वजनों को भी समाज की गतिविधियों की जानकारी प्राप्त हो सकेगी। उन्होंने पत्रिका के कलेवर की भूरी-भूरी प्रशंसा की तथा पत्रिका के प्रकाशन से प्रत्यक्ष एवं अप्रत्यक्ष रुप से जुडे हुए सभी सदस्यों को बधाई दी।
कार्यक्रम  का सुचारु रुप से संचालन डॉ. मनोज गुप्ता द्वारा किया गया।  
अंत में पोरवाल युवक संघ के महामंत्री धनराज गुप्ता ने पधारे हुए सभी स्वजनों को धन्यवाद प्रेषित किया एवं अल्पाहर के लिए आमंत्रित किया।